यह वेबसाइट बंद हो गई है। हमारी नई वेबसाइट हैः Parstoday Hindi
शनिवार, 05 दिसम्बर 2015 02:20

वरिष्ठ नेता का पत्र, आतंकवाद के विरुद्ध ईरान का दृष्टिकोण

वरिष्ठ नेता का पत्र, आतंकवाद के विरुद्ध ईरान का दृष्टिकोण

संयुक्त राष्ट्र संघ में इस्लामी गणतंत्र ईरान के प्रतिनिधि ने पश्चिमी युवाओं के नाम वरिष्ठ नेता के हालिया पत्र को आतंकवाद के विरुद्ध ईरान का दृष्टिकोण बताया है।

गुलाम अली खुशरू ने संयुक्त राष्ट्र संघ की महासभा की बैठक में पश्चिमी युवाओं के नाम वरिष्ठ नेता आयतुल्लाहिल उज़मा सैयद अली ख़ामेनई के हालिया पत्र के कुछ हिस्से पढ़े और कहा कि इस पत्र का उद्देश्य, आतंकवाद के संदर्भ में इस्लामी जगत की विचारधारा से युवाओं को अवगत कराना है।

उन्होंने वर्तमान घटनाओं का की ओर संकेत करते हुए कहा कि निर्धनता, भेदभाव, अन्याय और अतिग्रहण के अंत का एकमात्र मार्ग, संधि व शांति की संस्कृति है और यह चीज़ विभिन्न संस्कृतियों के मध्य संवाद से सभंव है।
याद रहे वरिष्ठ नेता ने 29 नवम्बर को पश्चिमी युवाओं के नाम अपने एक पत्र में आतंकवाद और पश्चिमी देशों की ओर से आतंकवादियों के समर्थन जैसे कई मुद्दों पर युवाओं के सामने अपने विचार रखे हैं।

 

पूरा पत्र पढ़ने और सुनने के लिए क्लिक करेंः पश्चिमी देशों के युवाओं के लिए वरिष्ठ नेता का दूसरा महत्वपूर्ण पूरा पत्र



गत जनवरी को भी वरिष्ठ नेता ने युवाओं के नाम एक पत्र लिखा था। (Q.A.)

Add comment


Security code
Refresh