यह वेबसाइट बंद हो गई है। हमारी नई वेबसाइट हैः Parstoday Hindi
बुधवार, 02 दिसम्बर 2015 15:12

वरिष्ठ नेता का पत्र, यूरोपीय और मुस्लिम युवाओं के बीच सहयोग का नया द्वार खोलेगा

वरिष्ठ नेता का पत्र, यूरोपीय और मुस्लिम युवाओं के बीच सहयोग का नया द्वार खोलेगा

तेहरान में राजनीतिक मामलों के विशेषज्ञ हसन हानी ज़ादे ने यूरोपीय युवाओं के नाम ईरान की इस्लामी क्रांति के वरिष्ठ नेता आयतुल्लाहिल उज़मा सैय्यद अली ख़ामेनई के पत्र के बारे में कहा है कि यूरोपीय युवकों ने इस पत्र का स्वागत किया है और इसमें उठाए गए महत्वपूर्ण मुद्दों पर विशेष ध्यान दिया है।


हानी ज़ादे का कहना था कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इस पत्र को इतनी व्यापक कवरेज मिली है कि हज़ारों न्यूज़ वेबसाइटों ने इसे अपने मुख्य पेज पर प्रकाशित किया है।

राजनीतिक मामलों के विशेषज्ञ का कहना था कि भविष्य में यूरोपीय युवाओं के रीजनीतिक विचारों पर इस पत्र का उचित प्रभाव पड़ेगा और इससे यूरोपीय और मुस्लिम युवाओं के बीच सहयोग एवं संवाद के लिए भूमि प्रशस्त होगा।

तेहरान न्यूज़ के साथ बात करते हुए हानी ज़ादे ने पश्चिमी युवाओं के नाम वरिष्ठ नेता के दूसरे पत्र के बारे में कहा, इस पत्र में बहुत ही महत्वपूर्ण और ज्वलंत बिंदुओं की ओर संकेत किया गया है।

उन्होंने कहा कि इस पत्र में वरिष्ठ नेता ने यूरोपीय युवाओं के लिए क्षेत्रीय स्थिति, क्षेत्र में आतंकवादी गुटों की उपस्थिति और निहत्थे लोगों विशेष रूप से मुस्लिम देशों की निर्दोष जनता के जनसंहार की व्याख्या की है, बल्कि कुल मिलाकर यूं कहा जा सकता है कि उन्हें क्षेत्र की वास्तविक स्थिति से अवगत करा दिया है। msm

Add comment


Security code
Refresh