समाचार
पैग़म्बरे इस्लाम के पवित्र परिजनों में से हर मार्गदर्शक मासूमअर्थात पापों से पवित्र है और वे वास्तव मैं नैतिकता व मानवता के सच्चे शिक्षक एवं अच्छाइयों के स्रोत हैं । …
ईरान कई हज़ार वर्ष पुरानी सभ्यता का स्वामी देश है और उसने इन वर्षों में बहुत उतार- चढ़ाव देखे हैं। ११ फरवरी वर्ष १९७९ में इस्लामी क्रांति की सफलता ईरानी …
पंद्रह रजब, पैग़म्बरे इसलाम हज़रत मुहम्मद सल्लल्लाहो अलैहे व आलेही व सल्लम की नवासी और हज़रत अली व फ़ातेमा अलैहिमस्सलाम की सुपुत्री हज़रत ज़ैनब सलामुल्लाह अलैहा के स्वर्गवास की तारीख़ …
आज तेरह रजब है। सलाम हो उस जन्म लेने वाले पर कि जिसके लिए ईश्वर ने अपने घर को जन्म स्थली बनाया और अपने सर्वश्रेष्ठ दूत पैग़म्बरे इस्लाम को उसका …
हिजरी क़मरी कैलेंडर के सातवें महीने रजब को उपासना और अराधना का महीना कहा जाता है जबकि इस पवित्र महीने के कुछ दिन पैग़म्बरे इस्लाम के परिजनों में कुछ महान …
इस्लामी इतिहास में ऐसी महान हस्तियां गुज़री हैं जिन्होंने ईश्वरीय शिक्षाओं के प्रचार व प्रसार और इंसानों को भलाई एवं पुण्य का रास्ता दिखाने के लिए भरपूर प्रयास किए। पैग़म्बरे …
बुधवार, 30 अप्रैल 2014 16:17

मुर्तज़ा मुतह्हरी

मानव इतिहास के विभिन्न चरणों में विभिन्न क्षेत्रों में दक्ष बुद्धिजीवी सामने आये जिन्होंने अन्य लोगों के कल्याण की मशाल प्रज्वलित की। लोगों के सबसे बड़े मार्गदर्शक ईश्वरीय दूत, पैग़म्बरे …
   पहली रजब 57 हिजरी कमरी को पवित्र नगर मदीना के शांतपूर्ण वातावरण में इमाम ज़ैनुल आबेदीन अलैहिस्सलाम के घर में इमाम मोहम्मद बाक़िर अलैहिस्सलाम का जन्म हुआ। इमाम मोहम्मद …
रविवार, 20 अप्रैल 2014 15:53

सर्वश्रेष्ठ आदर्श

आज के दिन धरती की गोद एक एसी हस्ती के अस्तित्व से भर गई जिसकी उपाधि ईश्वर ने कौसर रखी। एकेश्वरवाद के प्रचारक पैग़म्बरे इस्लाम की छत्रछाया में इस महान …
पैग़म्बरे इस्लाम सललल्लाहो अलैह व आलेही व सल्लम के पवित्र परिजनों में सबसे कम आयु हज़रत फ़ातेमा ज़हरा को मिली। वे एक कथन के अनुसार पैग़म्बरे इस्लाम के स्वर्गवास के …
बृहस्पतिवार, 20 मार्च 2014 08:50

२९ इसफन्द ईरानी तेल का राष्ट्रीयकरण

ईरान में तेल उद्योग के इतिहास को समझने के लिए तेल के उस समझौते के अतीत को समझना होगा जो वर्ष १८७० में आरंभिक बिन्दु था। उस समय तेल के …
शनिवार, 08 मार्च 2014 17:26

विश्व महिला दिवस

महिलाओं के अधिकारों के दृष्टिगत उनकी सराहना करने के लिए हर वर्ष आठ मार्च को विश्व महिला दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस अवसर पर विभिन्न राष्ट्रीय व …
पांच जमादिल अव्वल पांच हिजरी क़मरी को पवित्र नगर मदीना में पैग़म्बरे इस्लाम की प्राणप्रिय नवासी हज़रत ज़ैनब का जन्म हुआ।   उस समय पैग़म्बरे इस्लाम मदीने से बाहर यात्रा …
पैग़म्बरे इस्लाम के पौत्र हज़रत इमाम हसन असकरी अलैहिस्सलाम के शुभ जन्मदिन का अवसर है। यह महान दिवस इस साल ईरान की इस्लामी क्रान्ति की सफलता की वर्षगांठ के दिन …
सोमवार, 20 जनवरी 2014 14:32

इस्लाम की दृष्टि से एकता

मुसलमानों की धार्मिक, एतिहासिक और राजनैतिक आवश्यकताओं में से एक महत्वपूर्ण आवश्कयता, इस्लामी एकता है।  इस्लामी एकता, मुसलमानों के सम्मान और हर क्षेत्र में उनकी सफलता का एक महत्वपूर्ण तत्व …
दया व कृपा के प्रतीक, अंतिम ईश्वरीय दूत पैग़म्बरे इस्लाम हज़रत मोहम्मद मुसतफ़ा सल्लल्लाहो अलैहे व आलेही व सल्लम के शुभ जन्म दिवस का अवसर है। आमुल फ़ील में 17 …
पैग़म्बरे इस्लाम हज़रत मुहम्मद मुस्तफ़ा सलल्लाहो अलैह व आलेही व सल्लम इतिहास के विभिन्न चरणों में मुसलमानों के मध्य एकता और संपर्क का बड़ा स्रोत रहे हैं। चूंकि मुसलमान उनके …
मंगलवार, 07 जनवरी 2014 16:27

इमाम हसन अस्करी अलैहिस्सलाम

सन 260 हिजरी क़मरी में इमाम हसन अस्करी अलैहिस्सलाम को 28 वर्ष की आयु में शहीद कर दिया गया। पैग़म्बरे इस्लाम सलल्लाहो अलैह व आलेही व सल्लम के परिजनों व …
    आज सफर महीने की अंतिम तारीख पैग़म्बरे इस्लाम के प्राणप्रिय पौत्र हज़रत इमाम रज़ा अलैहिस्सलाम की शहादत का दुःखद अवसर है।     पैग़म्बरे इस्लाम के पौत्र हज़रत इमाम …
ईश्वरीय दूतों ने धर्म के नेहाल की सिंचाई की क्योंकि उन्हें मानव समाजों में भलाई फैलाने का दायित्व सौंपा गया था। उनका उद्देश्य समाज में एकेश्वरवाद को फैलाना, न्याय की …