इस्लामी क्रांति के वरिष्ठ नेता ने नये हिजरी शम्सी वर्ष को राजनैतिक व आर्थिक संघर्ष का नाम दिया है। इस्लामी गणतंत्र ईरान में यह परम्परा है कि नया साल आरंभ होने …
सोमवार, 18 फ़रवरी 2013 19:46

मदीना की एक मनोहर सुबह

पैग़म्बरे इस्लाम सल्लल लाहो अलैहे व आलेही व सल्लम के ग्यारहवें उत्तराधिकारी हज़रत इमाम हसन अस्करी अलैहिस्सलाम का शुभ जन्म दिवस है। सन 232 हिजरी क़मरी में आठ रबीउस्सानी की …
सोमवार, 28 जनवरी 2013 20:49

एकता सप्ताह

एकता सप्ताह , 12 - 17 रबीउल अव्वल उस दिन कि जब काबे के आकाश से पैग़म्बरी अर्थात ईश्वरीय दूत का सूर्य उदय हुआ तो कोई भी नहीं सोच रहा …
सोमवार, 28 जनवरी 2013 20:45

इस्लाम धर्म का पुनर्जीवन

17 रबीउल अव्वल सन 83 हिजरी क़मरी को संसार में ईश्वर की ओर से जनता का मार्गदर्शन करने वाला एक अन्य सूर्य भी उदित हुआ। यह दूसरा सूर्य हज़रत इमाम …
सोमवार, 28 जनवरी 2013 20:41

नया सवेरा

पृथ्वी इंतेज़ार में थी और आकाश बेचैन था। काबा ऐसी मूर्तियों से भरा पड़ा था जिन्हें लोगों ने बनाकर अनन्य ईश्वर का स्थान दे दिया था। अत्याचार, अज्ञानता, अंधविश्वास, और …
रविवार, 27 जनवरी 2013 15:33

एकता सप्ताह का महत्त्व-2

इस्लाम धर्म, एकता, समरस्ता और एकजुटता का धर्म है और इस्लामी गणतंत्र ईरान के संस्थापक स्वर्गीय इमाम ख़ुमैनी ने इन्हीं आधारों पर सदैव लोगों के मध्य एकता की रक्षा और …
बृहस्पतिवार, 24 जनवरी 2013 15:42

एकता सप्ताह का महत्त्व-1

उस दिन कि जब काबे के आकाश से पैग़म्बरी अर्थात ईश्वरीय दूत का सूर्योदय हुआ तो कोई भी नहीं सोच रहा था कि अज्ञानता में डूबी हुई मानवता के लिए …
पैग़म्बरे इस्लाम और उनके पवित्र परिजन उच्चतम मानवीय सदगुणों और मूल्यवान आत्मिक व नैतिक विशेषताओं के सर्वोत्तम प्रतीक हैं। आज इस्लामी जगत पैग़म्बरे इस्लाम के पौत्र के शोक में डूबा …
हे मोहम्मद आप पर सलाम हो, हे अहमद आप पर सलाम हो, हे ईश्वर के प्रकाश आप पर सलाम हो, सलाम हो आप पर, आपके पवित्र परिवार पर आपके दादा …
प्रिय पाठको पैग़म्बरे इस्लाम सल्लल्लाहो अलैहि व आलेही व सल्लम और उनके प्राणप्रिय नाती इमाम हसन अलैहिस्सलाम की शहादत के दुःखद अवसर पर रेडियो तेहरान आप सबकी सेवा में हार्दिक …
आशूर के दिन अर्थात दस मुहर्रम सन ६१ हिजरी क़मरी को संध्या के समय जब करबला के अंतिम शहीद और संसार के अत्यंत सम्मानीय व्यक्ति इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम को भूखा …
बृहस्पतिवार, 20 दिसम्बर 2012 19:43

प्राचीन ईरानी उत्सव “शबे यलदा”

ईरान का इतिहास एसे उत्सवों से भरा हुआ है जिनमें से अधिकांश, धार्मिक एवं  सांस्कृतिक संबन्धों के कारण मानवीय दृष्टि से बहुत महत्व रखते हैं।  शबे यल्दा अर्थात वर्ष की …
बृहस्पतिवार, 08 नवम्बर 2012 20:35

इशारा करें तो पहाड़ हट जाए!

इस्लामी हिजरी क़मरी वर्ष के बारहवें महीने ज़िल्हज्जा की 24 तारीख़ को पैग़म्बरे इस्लाम सल्लल्लाहो अलैहे व आलेही व सल्लम तथा नजरान क्षेत्र के ईसाइयों के बीच मुबाहेला हुआ था। …
विश्व साम्राज्यवाद से संघर्ष की प्रक्रिया में तेरह आबान बराबर ३ नवंबर की तारीख़, ईरान की इस्लामी क्रांति के इतिहास की तीन अति महत्वपूर्ण घटनाओं की याद दिलाती है।  स्वर्गीय …
सोमवार, 29 अक्तूबर 2012 18:09

महान व्यक्तित्व, अलौकिक दर्पण

जब हम अपना मूल्यांकन करना चाहें तो इसका उचित मार्ग यह है कि आदर्श हस्तियों को कसौटी मानकर उनके आचरण पर अपने क्रियाकलापों को तौलें। पैग़म्बरे इस्लाम के पौत्र और …
मंगलवार, 23 अक्तूबर 2012 16:27

हज अर्थात संकल्प

हज का शाब्दिक अर्थ होता है संकल्प करना।  वे लोग जो ईश्वर के घर के दर्शन का संकल्प करते हैं, उनको इस यात्रा की वास्तविकता से अवगत रहना चाहिए और …
मंगलवार, 23 अक्तूबर 2012 14:13

इमाम मोहम्मद बाक़िर

ज़िल्हिज्जा की सातवीं तारीख़ पैग़म्बरे इस्लाम के पौत्र हज़रत इमाम मोहम्मद बाक़िर अलैहिस्सलाम की शहादत का दिन है। वे भी पैग़म्बरे इस्लाम के अन्य परिजनों की भांति समस्त काल में …
रविवार, 21 अक्तूबर 2012 19:27

हज, वैभवशाली व प्रभावी उपासना

हज, वैभवशाली व प्रभावी उपासना-1 यह जिलहिज का महीना है।  इस महीनें में, मक्का में लाखों तीर्थयात्री एकत्रित होते हैं, जिसमें वे सुन्दर एवं अद्वितीय उपासना हज के संसकार पूरे …
इस्लाम गणतंत्र ईरान धार्मिक व ईश्वरीय मूल्यों तथा मानवीय सम्मान की रक्षा पर आधारित प्रशासन के उद्गम के रूप में आरंभ से ही शत्रु के व्यापक हमले का निशाना बना। …
मदीना नगर, पैग़म्बरे इस्लाम के परिवार में एक बच्ची के जन्म की प्रतीक्षा में आंखे बिछाए हुए था। वह बच्ची बसंत ऋतु के फूलों से अधिक प्रफुल्ल और स्वर्ग की …