यह वेबसाइट बंद हो गई है। हमारी नई वेबसाइट हैः Parstoday Hindi
शनिवार, 09 अप्रैल 2016 19:40

तुर्की और इस्राईल के संबंध लगभग सामान्य हो चुके हैं

तुर्की और इस्राईल के संबंध लगभग सामान्य हो चुके हैं

तुर्की एक बार फिर जायोनी शासन से संबंधों को विस्तृत करने के प्रयास में है जबकि वह इस्लामी जगत में फिलिस्तीनी राष्ट्र के समर्थन का दावा करता है।

राजनीतिक टीकाकार तुर्की के इस क़दम को इस देश की सत्ताधारी पार्टी के नेताओं की वास्तविक मंशा के रूप में देख रहे हैं। इससे पहले तुर्की के विदेशमंत्री ने जायोनी शासन के साथ संबंधों को बेहतर बनाये जाने के लिए होने वाली वार्ता में प्रगति की सूचना दी और कहा था कि दोनों पक्ष आगामी बैठक में होने वाली सहमति को अंतिम रूप देने पर सहमत हो चुके हैं।

प्रेस टीवी की रिपोर्ट के अनुसार तुर्की के विदेशमंत्रालय ने आठ अप्रैल को एक विज्ञप्ति जारी करके घोषणा की है कि तुर्की के उप विदेशमंत्री ने जायोनी शासन के प्रधानमंत्री के विशेष प्रतिनिधि और इस्राईल की सुरक्षा परिषद के प्रमुख जनरल जोकोफ़ नैगिल से लंदन में भेंट की। इस विज्ञप्ति में आगे आया है कि दोनों पक्षों ने इस भेंट में संबंधों को अंतिम रूप देने पर लगभग सहमति कर ली है और शीघ्र ही होने वाली बैठक में इस सहमति को अंतिम रूप दे दिया जायेगा। जायोनी अधिकारियों के साथ तुर्की की सत्ताधारी पार्टी के नेताओं की वार्ता इस बात की सूचक है कि पिछले कुछ वर्षों में अंकारा के अधिकारियों ने इस्राईल से दुश्मनी का दिखावा करके इस्लामी जगत में उचित व विशेष स्थान प्राप्त कर लिया है।

इसके साथ ही टीकाकारों का कहना है कि तुर्की की सरकार अंत में अपनी वास्तिक पहचान न छिपा सकी और एक बार फिर उसने इस्लामी जगत के मूल शत्रु जायोनी शासन से सहकारिता की दिशा में व्यवहारिक क़दम उठाया है। MM

 

Media

Add comment


Security code
Refresh