यह वेबसाइट बंद हो गई है। हमारी नई वेबसाइट हैः Parstoday Hindi
बृहस्पतिवार, 07 अप्रैल 2016 19:57

चीन दूसरे देशों के साथ परमाणु सहकारिता करेगा

चीन दूसरे देशों के साथ परमाणु सहकारिता करेगा

चीन के प्रधानमंत्री ली क्विंग ने कहा है कि बीजींग प्रशांत महासागर के तटवर्ती देशों के साथ शांतिपूर्ण उद्देश्यों के लिए परमाणु सहकारिता करने पर तैयार है।

चीन के प्रधानमंत्री ने बीजींग में 20वीं परमाणु कांफ्रेन्स में कहा कि इस बात में कोई संदेह नहीं है कि चीनी सरकार शांतिपूर्ण उद्देश्यों के लिए परमाणु तकनीक में विस्तार की इच्छुक है।

प्रतीत यह हो रहा है कि शांतिपूर्ण उद्देश्यों के लिए परमाणु तकनीक से लाभ उठाने पर आधारित चीनी प्रधानमंत्री का बयान समानता से संबंधित है यानी समस्त देशों को शांतिपूर्ण उद्देश्यों के लिए परमाणु तकनीक से लाभ उठाने का अधिकार है परंतु प्रश्न यह उठता है कि क्या विश्व में परमाणु हथियारों से सम्पन्न देश व शासन परमाणु ऊर्जा के केवल शांतिपूर्ण प्रयोग के बारे में सोचते हैं?

चीन के प्रधानमंत्री कुछ देशों और जायोनी शासन के क्रिया- कलापों व दृष्टिकोणों की अनदेखी करते हुए दूसरों से बेहतर ढंग से जानते हैं कि इस समय विश्व की सुरक्षा 23 हज़ार परमाणु हेड्स की छत्रछाया में है। अमेरिका द्वारा जापान के दो नगरों हीरोशीमा और नागासाकी पर परमाणु बम्बारी के 6 दशक का समय बीत जाने के बावजूद अब भी परमाणु हथियारों के संबंध में अमेरिका सहित कुछ देशों की नीतियों में कोई परिवर्तन नहीं आया है।

बहरहाल जब तक परमाणु हथियारों से सम्पन्न देश व शासन विश्व की शांति व सुरक्षा को गम्भीरता से नहीं लेंगे तब तक इन हथियारों के नष्ट करने की दिशा में व्यवहारिक क़दम नहीं उठायेंगे। MM

 

Media

Add comment


Security code
Refresh