यह वेबसाइट बंद हो गई है। हमारी नई वेबसाइट हैः Parstoday Hindi
सपनों का देश ईरान
शनिवार, 15 मार्च 2014 16:45

क़ुम शहर

ऐतिहासिक दस्तावेज़ों के अनुसार 23 हिजरी क़मरी में क़ुम को मुसलमानों ने फ़तह किया। इस नगर की जनता पर इस्लाम का प्रभाव इतना गहरा था कि अब्बासी शासन काल में …
शनिवार, 15 मार्च 2014 16:36

ख़ुमैन

ख़ुमैन नगर केन्द्रीय प्रांत के दक्षिण में स्थित है और इसका क्षेत्रफल 2267 वर्ग किलोमीटर है। इस नगर की जलवायु फ़सलों के अनुसार परिवर्तित होती रही है। शीत ऋतु में …
शनिवार, 08 मार्च 2014 16:55

मरकज़ी प्रांत

लगभग 29530 किलो मीटर क्षेत्रफल में फैला हुआ मरकज़ी प्रांत ईरान के केन्द्र में स्थित है। अराक, इस प्रांत का केन्द्र एवं सबसे बड़ा शहर है। इस प्रांत की सीमा, …
शनिवार, 01 मार्च 2014 17:29

कोहगिलोय व बोवैर अहमद

      कोहगिलुये व बोवैर अहमद प्रांत में प्राचीन धरोहरों की संख्या कम नहीं है।  इन धरोहरों में दुर्गों, धर्मशालाओं, मस्जिदों, अग्निकुण्डों, जलभण्डारों, प्राचीन पुलों, मक़बरों और इसी प्रकार …
शनिवार, 22 फ़रवरी 2014 15:40

हमदान प्रांत-२

ईरान की प्राचीन सभ्यता के वैभव पर विश्व के पुरातनविदों व इतिहासकारों ने इस प्रकार ध्यान दिया है कि यह वैभव व शान उसके समस्त सांस्कृतिक व क्लात्मक आयाम पर …
बृहस्पतिवार, 20 फ़रवरी 2014 12:00

हमदान प्रांत-२

हमदान प्रांत देश के पश्चिम में स्थित है और इसका क्षेत्रफल 19 हज़ार वर्ग किलोमीटर से अधिक है। यह प्रांत उत्तर से ज़ंजान व क़ज़वीन, दक्षिण से लुरिस्तान, पूरब से …
रविवार, 16 फ़रवरी 2014 16:42

हमदान प्रांत

हमदान प्रांत देश के पश्चिम में स्थित है और इसका क्षेत्रफल 19 हज़ार वर्ग किलोमीटर से अधिक है। यह प्रांत उत्तर से ज़ंजान व क़ज़वीन, दक्षिण से लुरिस्तान, पूरब से …
शनिवार, 08 फ़रवरी 2014 17:26

यज़्द की यात्रा

नवीं हिजरी शताब्दी के मध्य शाहरुख़ तैमूरी के एक सेनापति अमीर जलालुद्दीन चख़माक़ जब यज़्द की सत्ता में पहुंचे तो उन्होंने अपनी पत्नी बीबी फ़ातेमा ख़ातून की सहायता से नगर …
बृहस्पतिवार, 06 फ़रवरी 2014 12:34

यज़्द प्रांत की सैर

यज़्द प्रांत चूंकि ईरान के मध्यवर्ती पठार में स्थित है अतः इस क्षेत्र में नदियां कम हैं और पानी की आपूर्ति के लिए यह क्षेत्र भूमिगत जलसोतों पर निर्भर है। …
बृहस्पतिवार, 30 जनवरी 2014 11:17

यज़्द प्रान्त की सैर

यज़्द प्रान्त, ईरान के केन्द्रीय क्षेत्र में तथा ईरान की केन्द्रीय पर्वत श्रंखला के आंचल में तथा मरूस्थल के किनारे स्थित है। इस प्रान्त के उत्तर और पश्चिम में इस्फहान …
बृहस्पतिवार, 23 जनवरी 2014 13:22

किरमान शाह-२

किरमान शाह प्रान्त के कंगावर नगर के केन्द्र में हमदान से किरमानशाह जाने वाली सड़क के निकट अनाहीनता देवी का प्रसिद्ध मंदिर है। अनाहीता उपासना स्थल, तख्ते जमशीद के बाद …
मंगलवार, 14 जनवरी 2014 14:49

ज़न्जान प्रान्त की सैर

विभिन्न संस्कृतियों वाले अलग अलग समाजों और लोगों से परिचय सदैव ही सभी के लिए रूचि व आकर्षण का केन्द्र होता है तथा मनुष्य को सृष्टि की विविधता के बारे …
रविवार, 05 जनवरी 2014 15:13

मीबुद ज़िला

मीबुद ज़िले का क्षेत्रफल 1271 किलो मीटर है तथा जनसंख्या के दृष्टिगत यह यज़्द के बाद आता है तथा ऐतिहासिक मीबुद शहर इस ज़िले का केंद्र है। मीबुद के लोग …
रविवार, 29 दिसम्बर 2013 14:31

महल्लात ज़िले की सैर

महल्लात ज़िले का क्षेत्रफल लगभग 2100 वर्ग किलोमीटर है, यह ज़िला मरकज़ी प्रांत के दक्षिण पूर्व में स्थित है। इस ज़िले में शीत ऋतु में सर्दी और ग्रीष्म ऋतु में …
शनिवार, 21 दिसम्बर 2013 16:29

अराक

अराक शहर का क्षेत्रफल 7000 वर्ग किलोमीटर है और यह समुद्र की सतह से 1800 मीटर ऊंचाई पर मरकज़ी प्रांत के केन्द्र में स्थित है। अराक शहर की स्थापना सन् …
बुधवार, 11 दिसम्बर 2013 14:17

किरमानशाह

ऐतिहासिक स्थल ताक़े बोस्तान इसी नाम के पर्वत के आंचल में तथा केरमानशाह शहर के उत्तर पूर्व में एक सोते के किनारे स्थित है। इस क्षेत्र में सासानी काल के …
ज़ंजान में मूल्यवान प्राचीन धरोहर एवं ऐतिहासिक आकर्षण पाए जाते हैं। ज़ंजान प्रांत के केन्द्रीय शहर ज़ंजान के ऐतिहासिक भाग के मध्य में एक मूल्यवान ऐतिहासिक इमारत मस्जिदे सैय्यद स्थित …
मंगलवार, 19 नवम्बर 2013 21:11

बंदर तुर्कमन

बंदर तुर्कमन नगर, उत्तरी ईरान के गुलिस्तान प्रांत के पश्चिमोत्तरी क्षेत्र में स्थित है।  तुर्कमन नगर की सीमाएं उत्तर से तुर्कमनिस्तान, दक्षिण में कुर्दकुई तथा गुरगान नगर, पूर्व में आक़क़ला …
सोमवार, 04 नवम्बर 2013 18:55

अबू मूसा द्वीप

अबूमूसा द्वीप की जलवायु गर्म और आर्द्र है क्योंकि यह भूमध्य रेखा के निकट है। इस द्वीप की जलवायु ईरान के समस्त द्वीपों की जलवायु से अधिक गर्म है। शीत …
मंगलवार, 29 अक्तूबर 2013 20:58

ईरान में तांबा

ईरान में तांबे की खान भी उन खानों में शामिल है जिससे देश की आतंरिक आवश्यकताओं की पूर्ति के साथ साथ विदेशी मुद्रा भी प्राप्त की जा सकती है। तांबा …