यह वेबसाइट बंद हो गई है। हमारी नई वेबसाइट हैः Parstoday Hindi
मनोरम कहानियां
पिछली कड़ी में हमने आपको बताया था कि जूज़र मछली पकड़ने के लिए क़ारून तालाब जाता है और वहां वह ऐसे भाइयों से परिचित होता है जिनमें से हर एक …
आप को याद होगा कि हमने बताया था कि एक व्यापारी के तीन बेटे थे ।   सलीम, सालिम और जोज़र। व्यापारी जोज़र नामक अपने बेटे को बहुत चाहता था …
जैसा कि हम ने बताया था कि एक व्यापारी था जिसके तीन बेटे थे सलीम, सालिम और जूज़र। व्यापारी की मौत के बाद सलीम और सालिम कि जिनकी समस्त पूंजी …
एक व्यापारी था जिसके तीन बेटे था जिनका नाम सलीम, सालिम और जूज़र था। अपने सबसे छोटे बेटे को ज़्यादा चाहता था और यही कारण था कि सलीम और सालिम …
सोमवार, 17 मार्च 2014 13:12

गधे की दुम

“ बे चारा गधा लेने गया दुम, दुम तो मिली नहीं दो कान भी हो गये गुम।   किसी समय में एक गांव में पशुओं के बीच एक लापरवाह गधा …
शनिवार, 15 मार्च 2014 17:18

राजा और सुनार

पुराने समय की बात है एक शहर में एक सुनार रहता था। वह हर दिन सूर्योदय से पहले अपनी दुकान पर पहुंच जाता था। उसकी दुकान शासक के महल के …
शनिवार, 01 मार्च 2014 16:46

मलिक जमशेद और अश्वमीन

कहा जाता है कि राजा ने अपने पुत्र मलिक जमशेद के लिए जो अपनी माता की औचक मौत के कारण बहुत दुखी व एकांत वासी था, एक नदी बनवाता है। …
एक दिन एक शिकारी धनुष हाथ में लिए हुए जंगल में जा रहा था। थका हुआ था और उसके चेहरे से पसीना टपक रहा था। वह रुका, धनुष और बाणों …
रविवार, 23 फ़रवरी 2014 12:43

कौओं एवं उल्लू की कहानी

कहा जाता है कि एक पहाड़ में एक लम्बे चौड़े पेड़ पर कौओं का घोसला था कि जो दूर से देखने पर काले वृक्ष के पत्तों की भांति प्रतीत होता …
रविवार, 16 फ़रवरी 2014 13:42

बगला और केकड़ा

काफ़ी समय पहले की बात है। एक तालाब के किनारे एक बगला बैठा हुआ था और पानी में तैरने वाली छोटी-बड़ी मछलियों को निहार रहा था। वह काफ़ी निराश था …
रविवार, 09 फ़रवरी 2014 17:29

चूहा और ऊंट

एक दिन की बात है एक जवान मोटा ताज़ा चूहा एक मैदानी क्षेत्र में घूम रहा था, इस चूहे में सबसे बड़ी कमी यह थी कि वह स्वयं को विश्व …
बृहस्पतिवार, 06 फ़रवरी 2014 12:22

“बिल्ली का न्याय”

कुछ पक्षी एक पर्वत के आंचल में रहते थे। एक कौए ने भी दूसरे पक्षियों के समीप एक पेड़ पर अपना घोंसला बना रखा था। एक तीतर का भी वहां …
बृहस्पतिवार, 30 जनवरी 2014 13:00

चक्की वाला और लोमड़ी

कहते हैं कि पुराने युग में एक चक्की वाला था कि जो लोगों के गेहूं पीसता था और मज़दूरी उसी आटे से ले लिया करता था कि जो वह पीसा …
बृहस्पतिवार, 23 जनवरी 2014 12:22

कौआ और साँप

सुदूर क्षेत्र में स्थित एक जंगल में एक पेड़ पर एक कौआ रहता था। उसे ऐसा दुख था जिससे वह छुटकारानहीं पा रहा था। कौए के घोसले के निकट एक …
मंगलवार, 14 जनवरी 2014 17:24

ख़रगोश और प्यासे हाथी

प्राचीन काल में एक सुदूर क्षेत्र में एक सोते के निकट कुछ हाथी बहुत सुखी जीवन व्यतीत करते थे। एक साल वहां वर्षा न हुयी और सोते के पानी दिन …
रविवार, 05 जनवरी 2014 14:22

कौवा और चूहा

एक कौवा एक चूहे की बिल के निकट घोसला बनाकर जीवन यापन करता है। चूहे और कौवे की पुरानी दुश्मनी के विपरीत यह कौवा चूहे से दोस्ती करना चाहता है। …
रविवार, 29 दिसम्बर 2013 15:39

बुढ़िया और व्यापारी

बहुत पहले की बात है कि एक बुढ़िया के यहां एक व्यापारी आया और रात के समय उसके घर का द्वार खटखटा कर कहने लगा कि मुझे अपने घर में …
शनिवार, 21 दिसम्बर 2013 16:24

शरीके दुज़्द व रफीक़ क़ाफिले

     कहा जाता है कि पुराने ज़माने में एक व्यापारियों का एक कारवां सामान के साथ यात्रा पर था और चूंकि उस युग में लुटेरे, मार्ग में कारंवा को …
शनिवार, 14 दिसम्बर 2013 15:42

चमत्कार करने वाला जानवर

कहते हैं कि पुराने युग में एक चक्की वाला था कि जो लोगों के गेहूं पीसता था और मज़दूरी उसी आटे से ले लिया करता था कि जो वह पीसा …
बृहस्पतिवार, 28 नवम्बर 2013 11:15

लोमड़ी और तूज़ली बेग

कहानियां मौखिक साहित्य का महत्वपूर्ण व लोकप्रिय भाग हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि मौखिक साहित्य किसी भी देश की महत्वपूर्ण सांस्कृतिक धरोहर हो सकती है और इस से देश …