यह वेबसाइट बंद हो गई है। हमारी नई वेबसाइट हैः Parstoday Hindi
रविवार, 20 मार्च 2016 13:33

हरीश रावत ने भाजपा पर लगाए गंभीर आरोप

हरीश रावत ने भाजपा पर लगाए गंभीर आरोप
  उत्तराखंड में चल रहे राजनैतिक संकट के बीच मुख्यमंत्री हरीश रावत को राज्यपाल कृष्णकांत पाल ने 28 मार्च तक विधानसभा में बहुमत साबित करने का मौक़ा दिया है। सरकार के अल्पमत में आ जाने की दलील देते हुए उसे तुरंत बर्ख़ास्त करने की भाजपा की मांग को नज़रअंदाज कर राज्यपाल ने रावत को राहत यह दी है।   राज्यपाल ने शुक्रवार को विधानसभा में हुए पूरे घटनाक्रम को लेकर हरीश रावत को एक पत्र लिखा है। पत्र में उन्होंने गतिरोध दूर कर 28 मार्च तक सदन में बहुमत साबित करने का वक़्त दिया है। राज्यपाल के इस फ़ैसले पर मुख्यमंत्री हरीश ने कहा कि वह सदन में अपना बहुमत साबित करने को तैयार हैं।   राज्यपाल की ओर से समय मिलने के बाद मुख्यमंत्री हरीश ने भी आक्रामक रुख़ अख़्तियार कर लिया है। मुख्यमंत्री हरीश रावत ने गंभीर आरोप लगाया कि भाजपा के कई नेता रुपये भरे बैग लेकर घूमते देखे गए। इन्होंने विधायकों की ख़रीद-फ़रोख़्त की है। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का अचानक देहरादून पहुंचना और बाग़ी विधायकों का खुलेआम यह कहना कि ‘मुझे इतने करोड़ रुपये का ऑफ़र मिला है’ यह इस ओर इशारा करता है कि केंद्र में सत्तारूढ़ भाजपा, सरकार को अस्थिर करने के लिए हर दांव आज़मा रही है।   इसी बीच भाजपा ने विधायकों की ख़रीद-फ़रोख़्त के लगे आरोप को ‘बकवास’ कहा और कहा कि 9 कांग्रेस विधायकों की बग़ावत के बाद हरीश रावत सरकार को बर्ख़ास्त कर दिया जाना चाहिए।(MAQ/N)

Add comment


Security code
Refresh