यह वेबसाइट बंद हो गई है। हमारी नई वेबसाइट हैः Parstoday Hindi
बुधवार, 04 फ़रवरी 2015 18:19

प्रतिरोपण के क्षेत्र में ईरान की ऊंची छलांग

प्रतिरोपण के क्षेत्र में ईरान की ऊंची छलांग

ईरान में बोन मैरो के प्रतिरोपण का पांच हज़ारवां केस सफलतापूर्वक अंजाम पा गया है।

 

ईरान में बोन मैरो का इतिहास 25 साल पुराना है। पिछले साल ईरान बोन मैरो के प्रतिरोपण में पहले स्थान पर था। सफलताओं का यह क्रम ऐसा कीर्तीमान है जो क्षेत्र और दुनिया के लिए अनुपम उदाहरण है। सख़्त बीमारियों के उपचार में ईरान की सफलता पूरी तरह अंतर्राष्ट्रीय मानदंड के अनुसार है और इसे स्टेम सेल के ज़रिए अंजाम दिया गया है जिसने यूरोपीय देशों और अमरीका को हैरत में डाल दिया है। इसकी विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी पुष्टि की है।

 

ईरान में स्टेम सेल के क्षेत्र में व्यापक शोध ने ईरान को बहुत सी लाएलाज बीमारियों के स्टेम सेल से उपचार में सक्षम बना दिया है और आज ईरान क्षेत्रीय देशों में कुछ बीमारियों के उपचार में अग्रणी हैं।

 

हालांकि स्टेम सेल से उपचार अभी आरंभिक चरण में है किन्तु बहुत से रोगों का एलाज इससे किया जा सकता है। स्टेल सेल की शैली से मधुमेह, यकृत के रोग, दिल से जुड़ी कुछ बीमारियों तथा स्नायु से जुड़े रोगों का एलाज किया जा सकता है। (MAQ/N)

फेसबुक पर हमें लाइक करें, क्लिक करें 

Add comment


Security code
Refresh