यह वेबसाइट बंद हो गई है। हमारी नई वेबसाइट हैः Parstoday Hindi
शुक्रवार, 09 जनवरी 2015 14:48

2025 तक बिना ड्राइवर वाली कार बाज़ार में होगीः रिपोर्ट

बिना ड्राइवर वाली कार का नमूना (फ़ाइल फ़ोटो) बिना ड्राइवर वाली कार का नमूना (फ़ाइल फ़ोटो)

औद्योगिक मामलों के माहिरों का कहना है कि 2025 तक बिना ड्राइवार वाली कार बाज़ार में उपलब्ध हो जाएगी और 2035 तक इस प्रकार की कारें हर साल 1 करोड़ बीस लाख बिका करेंगी और इस प्रकार बिना ड्राइवर वाली कारों की सेल, दुनिया की कुल कारों की सेल का लगभग दस प्रतिशत भाग हो जाएगी।

 

बोस्टन कन्सल्टिंग ग्रुप बी सी जी ने एक शोध में यह बात कही है जो गुरुवार को प्रकाशित हुआ। बोस्टन कन्सल्टिंग ग्रुप के अनुसार अगले पांच से दस साल में ऑटो पायलट सिस्टम को चरणबद्ध रूप में कार में इस्तेमाल किया जाएगा। इस प्रकार का पहला तंत्र, स्टियरिंग, ब्रेक और एक्सेलरेटर को कुछ विशेष प्रकार के हालात में ख़ुद से नियंत्रित करेगा और यह दो साल में बाज़ार में आ जाएगा। इसी प्रकार इस तंत्र से पार्किंग में मदद मिलेगी और यह ट्रैफ़िक की स्थिति के बारे में भी बताएगा।

 

2018 में कार बनाने वाली कंपनियां, राजमार्ग से विशेष ऑटो पायलट सिस्टम कार में लगाएंगी जिसमें ख़ुद से राजमार्ग पर लेन बदलने की सुविधा होगी। जबकि पूरी तरह ऑटो पायलट सिस्टम वाली कार 2025 तक बाज़ार में उपलब्ध हो जाएगी।

 

बोस्टन कन्सल्टिंग ग्रुप के वैश्विक स्वचालित व्यवसाय विभाग के प्रमुख टॉमस डॉनर के अनुसार, “यह मूल रूप से बद्लाव होगा जैसा कि कार उद्योग को सौ साल को चुके हैं।”

 

कुछ ऐसे भी विशेषज्ञ हैं जिनका मानना है कि पूरी तरह स्वचालित कार के सपने के पूरा होने में अभी लंबा समय लगेगा।

 

दूसरी ओर रोबो टैक्सी सहित पूरी तरह स्वचालित कारों के आगमन से शहरी ड्राइविंग का स्वरूप बदल जाएगा। इस प्रकार की कारों से ट्रेफ़िक, प्रदूषण और ईंधन की खपत को कम करने में मदद मिलेगी।

 

उपभोक्ता भी स्वचालित कारों की ओर आकर्षित होंगे क्योंकि उसमें सुरक्षा के प्रबंध बेहतर होंगे और वे कार में बैठे बैठे दूसरे काम कर सकेंगे।

 

बोस्टन कन्सल्टिंग ग्रुप की रिपोर्ट के अनुसार लगभग 44 प्रतिशत अमरीकी ड्राइवर अगले दस साल में पूरी तरह स्वचालित कार ख़रीदने पर विचार करेंगे।(MAQ/N)

 

फेसबुक पर हमें लाइक करें, क्लिक करें 

Add comment


Security code
Refresh