यह वेबसाइट बंद हो गई है। हमारी नई वेबसाइट हैः Parstoday Hindi
मंगलवार, 03 नवम्बर 2015 15:01

रियाज़ को तेहरान की कड़ी चेतावनी, बर्दाश्त की भी एक हद होती है

रियाज़ को तेहरान की कड़ी चेतावनी, बर्दाश्त की भी एक हद होती है

 

तेहरान ने सऊदी अरब के हालिया निराधार दावों को ख़ारिज करते हुए, रियाज़ को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा है कि बर्दाश्त की एक सीमा होती है।

 

ईरान के उप विदेश मंत्री हुसैन अमीर अब्दुल्लाहियान ने रविवार को सऊदी अरब के विदेश मंत्री को संबोधित करते हुए कहा, हम आदिल अल-जुबैर को चेतावनी देते हैं कि वह इस्लामी गणतंत्र ईरान के धैर्य की परीक्षा न लें।

 

उल्लेखनीय है कि शनिवार को सऊदी विदेश मंत्री ने कहा था कि रियाज़ को आशा है कि तेहरान, ईरान और गुट पांच धन एक के बीच होने वाले परमाणु समझौते के क्रियान्वयन के बाद होने वाली अधिक आय को अपनी अर्थव्यवस्था को मज़बूत बनाने के लिए ख़र्च करेगा न कि अपनी अतिक्रमणकारी नीतियों के लिए।

 

ईरानी उप विदेश मंत्री ने सऊदी विदेश मंत्री के बयान पर प्रतिक्रिया ज़ाहिर करते हुए कहा, दूसरों पर आरोप लगाने और अपनी जिम्मेदारियों से फ़रार करने के स्थान पर सऊदी विदेश मंत्री को मिना त्रासदी के प्रति अपने देश की ज़िम्मेदारी को स्वीकार करना चाहिए।   

 

याद रहे कि 24 सितम्बर को मक्का निकट मिना में भगदड़ मचने के कारण 464 ईरानी नागरिकों समेत 4,700 हाजियों की मौत हो गई थी।

 

यह ऐसी स्थिति में है कि जब सऊदी अरब ने दावा किया था कि मिना भगदड़ में केवल 770 हाजियों की मौत हुई है।   

 

अमीर अब्दुल्लाहियान ने जुबैर को सलाह देते हुए कहा, रियाज़ को यमन, इराक़ और सीरिया में आतंकवाद का समर्थन बंद कर देना चाहिए और बहरैन जैसे छोटे से देश को अपनी ग़लत नीतियों का पात्र नहीं बनाना चाहिए। msm

 

फ़ेसबुक पर हमें लाइक करें, क्लिक करें 

 

Add comment


Security code
Refresh