यह वेबसाइट बंद हो गई है। हमारी नई वेबसाइट हैः Parstoday Hindi
सोमवार, 26 अक्तूबर 2015 09:20

सभी देश मिना त्रासदी के कारण ढूंढने की कोशिश करें

सभी देश मिना त्रासदी के कारण ढूंढने की कोशिश करें

 

विदेश मंत्री ने कहा है कि सभी देशों को मिना त्रासदी के अस्तित्व में आने के कारणों को खोजने की कोशिश करनी चाहिए।

 

मुहम्मद जवाद ज़रीफ़ ने रविवार को अफ़्रीक़ी देश माली के राजदूत बूबक्र गुरुदयाल से मुलाक़ात में मिना त्रासदी में इस देश के हाजियों के हताहत होने पर संवेदना प्रकट करते हुए आशा जताई कि सभी देशों को इस त्रासदी के कारणों को पहचानने और इस जैसी त्रासदी के पुनः अस्तित्व में आने को रोकने के लिए प्रयास व सहयोग करना चाहिए। उन्होंने इसी प्रकार आतंकवाद को सभी देशों के लिए एक जटिल समस्या बताया और कहा कि इस्लामी गणतंत्र ईरान, आतंकवाद से संघर्ष में सहयोग के लिए तैयार है।

 

इस मुलाक़ात में तेहरान में माली के नए राजदूत बूबक्र गुरुदयाल ने अपने प्रत्यय पत्र की कॉपी विदेश मंत्री ज़रीफ़ को दी और मिना की दुखद घटना में बड़ी संख्या में ईरानी हाजियों के हताहत होने पर ईरान की सरकार व जनता के प्रति संवेदना जताई। उन्होंने कहा कि इस त्रासदी में उनके देश के भी दो सौ से अधिक हाजी मारे गए हैं और यह संख्या अफ़्रीक़ी देशों में सबसे अधिक है। उन्होंने ईरान व गुट पांच धन एक के बीच परमाणु सहमति को एक बड़ी उपलब्धि बताया और कहा कि उनका देश इस सहमति के बाद उत्पन्न होने वाले परिवर्तनों पर दृष्टि रखे हुए है। (HN)

फ़ेसबुक पर हमें लाइक करें, क्लिक करें

Add comment


Security code
Refresh