यह वेबसाइट बंद हो गई है। हमारी नई वेबसाइट हैः Parstoday Hindi
श्रोताओ का पत्र
बुधवार, 29 फ़रवरी 2012 20:22

मुज़्जफ़र हुसैन

जगदीशपुर, भोजपुर, बिहार से मुज़्जफ़र हुसैन लिखते हैं मैं रेडियो तेहरान को सुनकर काफी प्रसन्न होता हूं। आपके कार्यक्रम सुखद एवं ज्ञानवर्धक होते हैं। कुरान ईश्वरिय चमत्कार मुझे काफी पसंद …
बुधवार, 29 फ़रवरी 2012 20:21

मोहम्मद मुबारक अली

मोहम्मद मुबारक अली का यह पत्र है गोवर्धन मिर्ज़ापुर उत्तर प्रदेश से प्रात कालिन प्रसारण में समाचारों से पता चला कि ईरान के विदेश मंत्री अली अकबर सालेही ने सुखाग्रस्त …
बुधवार, 29 फ़रवरी 2012 20:19

दीपक कुमार दास

ढोली सकरा मुज्जफरपुर बिहार से दीपक कुमार दास लिखते हैं ३० जुन को सांयकालिन प्रसारण में राजनैतिक वार्ता के तहत लोकपाल मुद्दे पर समीक्षा सुना। सार्थक लगा। कांग्रेस और उसके …
बुधवार, 29 फ़रवरी 2012 20:18

राहुल कुमार बासल

राहुल कुमार बासल का यह पत्र है वारासिवनी मध्य प्रदेश से लिखते हैं मैं आपकी प्रातःकालिन सभा को २५ मीटर बैंड़ पर नियमितरुप से सुनता हूं। २८मई को प्रगति सीढ़ियां …
बुधवार, 29 फ़रवरी 2012 20:17

नबी-नबी-नबी-नबी

चमन-चमन की दिलकशी गुलों की है वो ताज़गीहै चाँद जिससे शबनमी, वो कहकशां की रोशनीफ़ज़ाओं की वह रागिनी हवाओं की वह नग़मगीहै कितना प्यारा नाम भी नबी-नबी-नबी-नबी। ये किसके रोने …
बुधवार, 29 फ़रवरी 2012 20:15

इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम

ज़िन्दा इस्लाम को किया तूनेहक़ व बातिल दिखा दिया तूने जी के मरना तो सबको आता हैमर के जीना सीखा दिया तूने। कविः माथुर लखनवीप्रेषकः सैयद अख़्तर युसुफ़ ज़ैदीज़ैदी फ़ुट …
बुधवार, 29 फ़रवरी 2012 20:14

शुभकामना

दूर हटे बीते साल का अंधेरासबके लिए बने एक सवेरा। फूलों की ख़ुशबू मिले हर इंसान कोख़ुशगवार ज़िन्दगी मिले हर इंसान को। आतंक की अर्थी उठे इस देश मेंहम दिखें …
बुधवार, 29 फ़रवरी 2012 20:12

रेडियो तेहरान

शांति संदेश फैलाने की कोशिश करते हो भरपूरतुम्हारा लक्ष्य एक दिन तो साकार होगा ज़रूर। तुम्हारे सभी कार्यक्रम अध्यात्म से ओतप्रोत होते हैंहिंदी पत्रिका भी तो मुझको है बेहद मंजूर। …
बुधवार, 29 फ़रवरी 2012 20:11

ईरान की झाँकी

साथी मेरे! साथ मेरे चल दर्शन को ईरानवो धरती भी प्यारी हम को जैसे हिंदुस्तान। वहाँ भी गंगा यमुना जैसी पावन नदियाँ बहती हैंस्वर्ण काल की उस धरती कीसुदंर गाथा …
बुधवार, 29 फ़रवरी 2012 20:10

रेडियो तेहरान की पहचान

रेडियो तेहरान की यह है पहचानपथ प्रशस्त करता है रेडियो तेहरानसदा करो सब पर उपकारनिर्मल रखो अपने विचारदेता सुख व उत्तम ज्ञानअपना करो जीवन सुधाररमेश चन्द्र सक्सेना,ग्राम व पोस्ट बड़ागांव, …
बुधवार, 29 फ़रवरी 2012 20:08

रेडियो तेहरान की आवाज़

रेडियो तेहरान का एक अंदाज़ है,जानकारी ही जिसकी परवाज़ है।मनोरंजन पर जिसको नाज़ है,रेडियो तेहरान की वह आवाज़ है।अनिल ताम्रकार,शिवाजी चौक, कटनी,मध्यप्रदेश {jcomments on}
बुधवार, 29 फ़रवरी 2012 20:07

शर्मिन्दा क्यों?

क्यों शर्मिंदा होता है,किसका सोचा होता है।आगे-पीछे देख के चल,रस्ता अन्धा होता है।उससे कितना लड़ते थे,अब पछतावा होता है।दुनिया कितनी पापी है,अब अन्दाज़ा होता है।सुप्रिया राज,सिद्धार्थ रेडियो श्रोता संघ, सकरा,ढोली, …
बुधवार, 29 फ़रवरी 2012 20:05

रेडियो तेहरान से प्यार

ज़िंदगी जब तक रहेगी,फ़ुरसत न मिलेगी काम से,कुछ समय ऐसा भी निकालो,प्यार कर लो रेडियो तेहरान सेशंकरलाल जयस्वाल,ग्राम व पोस्ट येताला, तहसील धर्माबाद,ज़िला नान्देड़, महाराष्ट्र-431809{jcomments on}
बुधवार, 29 फ़रवरी 2012 20:04

सत्य और भ्रम

टीचर ने ब्लैकबोर्ड पर सत्य और भ्रम अलग-अलग लिखा और क्लास के बच्चों से पूछा कि इन दोनों शब्दों में क्या अंतर है?एक बच्चे ने खड़े होकर कहाः सर! आप …
बुधवार, 29 फ़रवरी 2012 20:02

माँ का उधार

एक दिन बच्चे ने अपनी माँ के हाथ में एक काग़ज़ थमाया। माँ ने काग़ज़ लिया और उसे ऊँची आवाज़ में पढ़ने लगी। बच्चे ने अपने टेढ़े-मेढ़े अक्षरों में लिखा …
शनिवार, 25 फ़रवरी 2012 18:01

पृथ्वीराज पुरकायस्थ

बृहस्पतिवार, 02 फ़रवरी 2012 16:23

रेडियो तेहरान श्रोता अभय भावे का पत्र

हज़रत मोहम्मद पैंगबर और इस्लाम के बारे में आपने जो मालुमात दी है वह काबीले तारीफ है। बहुत ही सहज और सरल भाषा में आपने लीखा है ये सब देख …
श्रोताओं की आवाज़ (डा हेमन्त कुमार)
बृहस्पतिवार, 24 नवम्बर 2011 16:35

सैयद अख्तर यूसुफ ज़ैदी

इस समय हम केवल आप के हिन्दी कार्यक्रम ही सुन पा रहे हैं और दुसरे कार्यक्रम हमारे रेडियो में नही लग रहा है। अभी तक आपने हमें पत्रिका नही भेजी …
बृहस्पतिवार, 24 नवम्बर 2011 14:27

दिलशाद हुसैन

सितम्बर को प्रसारित कार्यक्रम आज का इतिहास और शराब हानी और प्रभाव सुना शराब इस्लाम में हराम क्यों है यह जानने को मिला। इमाम जाफर सादिक़ अ. ने शराब को …